Sunday, April 21, 2024
Homeउत्तर प्रदेशअंतरराज्यीय बरुवार गिरोह के चार शातिर लुटेरे गिरफ्तार

अंतरराज्यीय बरुवार गिरोह के चार शातिर लुटेरे गिरफ्तार

रायबरेली: उत्तर प्रदेश में रायबरेली के सलोन इलाके में बैंकों की रेकी कर लूट करने वाले अंतरराज्यीय बरुवार गिरोह के दो शातिर लुटेरों को पुलिस, एसओजी और सर्विलांस दल के संयुक्त ऑपरेशन में मुठभेड़ के बाद के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है और उसके बाद इनके दो अन्य साथियों को भी गिरफ्तार लुटेरों की निशानदेही पर गिरफ्तार (Arrested) किया गया है।

अपर पुलिस अधीक्षक नवीन कुमार सिंह ने रविवार को बताया कि सलोन इलाके में बैंकों की रेकी कर लूट करने वाले अंतरराज्यीय बरुवार गिरोह के दो शातिर लुटेरों को चेकिंग के दौरान मुखबिर की सटीक सूचना पर मुठभेड़ के बाद पुलिस एसओजी और सर्विलांस की संयुक्त टीम ने हनुमान गंज नहरिया पटरी के पास से गिरफ्तार किया है जबकि उनके दो अन्य साथियों को गिरफ्तार लूट के आरोपियों की निशानदेही पर त्रिपुला तिराहे के पास से एक पेट्रोल पंप के सामने से गिरफ्तार (Arrested) किया गया है।

उन्होंने बताया कि पुलिस की मुठभेड़ में गिरफ्तार किए गए गोंडा जिले के रहनेवाले बरुवार गैंग के सरगना दिलीप कुमार बरूवार के दाहिने पैर में और राजेश कुमार के बाएं पैर में गोली लगी है जिनको इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसके बाद इन आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद इन लोगों की निशानदेही पर हरचंदपुर थाने के रहने वाले इनके दो साथियों सुरेशकुमार और रविप्रताप सिंह को त्रिपुला तिराहे के पास एक पेट्रोल के सामने स्थित लकड़ी के कारखाने से गिरफ्तार (Arrested) किया गया है।

पूछताछ करने पर गिरफ्तार आरोपियों ने बताया कि पिछले महीने के बीते मंगलवार को उनके द्वारा कस्बा सलोन में एक व्यक्ति की मोटरसाइकिल की डिग्गी में रखे 2 लाख 10 हज़ार रुपये चोरी कर लिए थे । इसके पहले उन्होने थाना बछरावां एवं महराजगंज क्षेत्र में भी इसी तरह की घटनाएं कारित की थी। जिला महराजगंज में भी पकडे गये आरोपियों ने घटना किया जाना स्वीकार किया है। पूछने पर आरोपीगण ने बताया कि वह नई घटना कारित करने के उद्देश्य से सलोन कस्बे की तरफ आ रहे थे, रास्ते में पुलिस चेकिंग के दौरान गिरफ्तारी से बचने के लिए उन्होने पुलिस टीम पर फायर भी किया किन्तु रायबरेली पुलिस द्वारा पकड़ लिए गये । पकडे गये आरोपीगण वरूवार गैंग के सदस्य हैं जो मुख्य रूप से बैंकों के आसपास रेकी करके बैंक ग्राहकों से लूट चोरी और टप्पेबाजी करते हैं।

आरोपियों ने बताया कि उनका एक गिरोह है। यह गिरोह विशेष रुप से ग्रामीण क्षेत्र के बैंकों में रेकी करके टप्पेबाजी, लूट और चोरी करता है। इनके 02 साथी बैंक के अंदर पासबुक व एटीएम आदि लेकर ग्राहकों के आसपास खडे होकर उनकी डिटेल लेते हैं और बडे अमांउट की धनराशि निकाल रहे लोगों को चिन्हित करते हैं और फिर उसको अपना टारगेट बनाकर घटना को अंजाम देते हैं। बैंक के अंदर से ही फोन के माध्यम से बाहर इंतजार कर रहे दूसरे साथी को सूचना देते हैं और फिर जो व्यक्ति पैसा निकाल कर जा रहा होता है उसके आगे पीछे लगकर मौका पाते ही वाहन और उसकी डिग्गी से रुपये निकाल लेते हैं या फिर असलहा का प्रयोग करके व्यक्ति को डरा-धमका कर लूट लेते हैं। घटना कारित करने के लिए जिन वाहनों का प्रयोग करते हैं उनका नंबर प्लेट बदल देते हैं। उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में इस गिरोह द्वारा घटनाएं कारित की गई हैं। इन आरोपियों की पुरानी हिस्ट्रीशीट है तथा इनके ऊपर कई दर्जन आपराधिक मामले विभिन्न जगहों पर चल रहे हैं।

पुलिस ने इन आरोपियों के पास से लूटे गए 01 लाख रुपये और अवैध असलहे आदि बरामद किए है और इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर वैधानिक कार्यवाही करते हुए इन्हें न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया है।

यह भी पढ़े: CM योगी बोले- 2017 के पहले यूपी में नौकरी नहीं थी और बाहर छंटनी होती थी

RELATED ARTICLES

Most Popular