Thursday, June 30, 2022
spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
Homeउत्तर प्रदेशयूपी की बैंकिंग सखी को मिलेगी वर्दी, रायबरेली निफ्ट करेगा डिजाइन

यूपी की बैंकिंग सखी को मिलेगी वर्दी, रायबरेली निफ्ट करेगा डिजाइन

लखनऊ: महिलाओं को सशक्त बनाने और राज्य में हथकरघा बुनकरों के लिए रोजगार के व्यापक अवसर पैदा करने के दोहरे उद्देश्य को पूरा करते हुए योगी सरकार बीसी-सखियों को निफ्ट रायबरेली द्वारा डिजाइन की गई एक लाख से अधिक साड़ियां देगी। हथकरघा उद्योग को बढ़ावा देने के लिए यूपी सरकार बैंकिंग सखी (बीसी सखी) योजना के तहत काम करने वाली महिलाओं को वर्दी के रूप में दो हैंडलूम साड़ियां उपलब्ध कराएगी। इसके लिए सरकार हैंडलूम बुनकरों द्वारा बनाई गई साड़ियों को खरीदेगी काम में शामिल बुनकरों को डीबीटी के जरिए 750 रुपये प्रति साड़ी मजदूरी दी जाएगी। यूपी हैंडलूम के एमडी केपी वर्मा ने बताया कि बीसी-सखी के रूप में काम करने वाली 58 हजार महिलाओं में से प्रत्येक को सरकार की तरफ से दो साड़ियां दी जाएंगी। निफ्ट के डिजाइनों को मुख्यमंत्री ने पहले ही मंजूरी दे दी है। साड़ियों की बुनाई का काम प्रगति पर है। प्रत्येक साड़ी की कीमत 1934.15 रुपये और विभाग को 1.16 लाख साड़ी और ड्रेस सामग्री के लिए 22 करोड़ 43 लाख 61 हजार 400 रुपये की राशि जारी की गई है।काम में शामिल बुनकरों को डीबीटी के जरिए 750 रुपये प्रति साड़ी मजदूरी दी जाएगी। यूपी हैंडलूम के एमडी केपी वर्मा ने बताया कि बीसी-सखी के रूप में काम करने वाली 58 हजार महिलाओं में से प्रत्येक को सरकार की तरफ से दो साड़ियां दी जाएंगी। निफ्ट के डिजाइनों को मुख्यमंत्री ने पहले ही मंजूरी दे दी है। साड़ियों की बुनाई का काम प्रगति पर है। प्रत्येक साड़ी की कीमत 1934.15 रुपये और विभाग को 1.16 लाख साड़ी और ड्रेस सामग्री के लिए 22 करोड़ 43 लाख 61 हजार 400 रुपये की राशि जारी की गई है।यूपी हथकरघा विभाग ने इस संबंध में पांच उत्पादक कंपनियों को साड़ियां बनाने का काम सौंपा है। इनमें से तीन वाराणसी जिले से और एक-एक मऊ और आजमगढ़ से हैं। यूपी हथकरघा पहले ही लगभग 537 बुनकरों को 1.20 करोड़ रुपये का भुगतान कर चुका है और 12 हजार 837 से अधिक साड़ियां तैयार हैं।

 

यह भी पढ़े: CM योगी विधानसभा गैलरी के सौंदर्यीकरण का लोकार्पण

Download Android App

RELATED ARTICLES

Most Popular