Saturday, February 24, 2024
spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
Homeउत्तर प्रदेशयोगी सरकार ने की VVIPs से Ayodhya ना आने की अपील, जानें...

योगी सरकार ने की VVIPs से Ayodhya ना आने की अपील, जानें पूरा मामला

लखनऊ: अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा के बाद से ही बड़ी संख्या में श्रद्धालु राम नगरी पहुंच रहे हैं। बीते दिन (23 जनवरी) करीब 5 लाख लोगों ने रामलला (Ramlala) के दर्शन किए। इस दौरान भारी भीड़ उमड़ने के चलते कुछ अव्यवस्थाएं भी देखने को मिलीं। हालांकि, जल्द ही पुलिस-प्रशासन ने हालात को कंट्रोल कर लिया। इसलिए कल के हालात से सबक लेते हुए आज (24 जनवरी) यूपी सरकार ने अयोध्या आने वाले अति विशिष्ट लोगों से एक अपील की है।

सरकार की ओर से कहा गया कि अति विशिष्ट मेहमान (VVIPs) अभी 10 दिनों तक अयोध्या ना आएं। अगर आएं तो प्रशासन या श्रीराम जन्मभूमि क्षेत्र ट्रस्ट को बता कर ही आएं। ताकि, उन्हें बेहतर सुविधा मुहैया हो पाएं। अभी क्राउड बहुत ज्यादा है। ऐसे में अति विशिष्ट मेहमानों को 10 दिनों के लिए अयोध्या यात्रा का कार्यक्रम पुनर्निर्धारित करना होगा।

अगले 10 दिनों तक अयोध्या ना आने की अपील

यूपी सरकार के मुताबिक, राम नगरी में असाधारण भीड़ को देखते हुए, वीआईपीज और प्रतिष्ठित व्यक्तियों से आग्रह किया जाता है कि वे आगामी 7 से 10 दिनों में अयोध्या धाम की अपनी यात्रा का कार्यक्रम तय करने से पहले स्थानीय प्रशासन, श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट या उत्तर प्रदेश सरकार को सूचित करें। यह अग्रिम सूचना सभी संबंधित लोगों की सुविधा और आराम के लिए महत्वपूर्ण है। सहयोग के लिए आप सभी का धन्यवाद।

सुबह 7 बजे से रात 11 बजे तक दर्शन की अनुमति

वहीं, एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा कि राम भक्तों को सुबह 7 बजे से रात 11 बजे तक दर्शन की अनुमति होगी। गौरतलब है कि रामलला (Ramlala) की प्राण प्रतिष्ठा के बाद देश भर से रामभक्तों के अयोध्या आने का सिलसिला तेज हो गया है। अयोध्या की सड़कों से लेकर मंदिर परिसर तक राम भक्तों का रेला लगा हुआ है। हर तरफ लोग ही लोग हैं। प्रशासन के लिए भक्तों की भीड़ को कंट्रोल करना मुश्किल साबित हो रहा है। एक दिन में 5-5 लाख लोग तक अयोध्या पहुंच रहे हैं। भीड़ को कंट्रोल करने के लिए प्रशासन ने कई तैयारियां की हैं साथ हीं लोग अधिक संख्या में दर्शन कर सकें इसलिए रात 11 बजे तक दर्शन की अनुमति दी गई है।

अब कैसी है व्यवस्था?

बीते मंगलवार को अयोध्या में रिकॉर्ड 5 लाख श्रद्धालुओं ने दर्शन किए। भीड़ की वजह से हालात ऐसे बन गए कि खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अयोध्या पहुंचना पड़ा। हालांकि, कुछ ही घंटे में व्यवस्थाएं फिर पटरी पर लौट आईं। बुधवार सुबह राम मंदिर में श्रद्धालुओं को बारी-बारी से रामलला के दर्शन करवाए जा रहे हैं।

मंदिर के बाहर भीड़

अयोध्या प्रशासन का कहना है कि आज हालात काबू में हैं। तीन लेयर की सुरक्षा व्यवस्था बनाई गई है। सुबह लंबी कतारें तो लगीं, लेकिन आधे घंटे में ही भक्तों को रामलला के दर्शन मिल जा रहे हैं। अब कतार लगाकर दर्शन हो रहे हैं। एक तरफ से लोग जा रहे हैं और दूसरी तरफ से लोगों की दर्शन के बाद वापसी हो रही है। कल के मुकाबले आज सुरक्षाकर्मी ज्यादा लगाए गए हैं। राम जन्मभूमि पथ में सिर्फ श्रद्धालुओं को जाने की अनुमति है।

बड़े अधिकारी अयोध्या में जमे

लॉ एंड ऑर्डर के डीजी प्रशांत कुमार को अयोध्या में ही रोका गया है। वे खुद दर्शन की व्यवस्था की जिम्मेदारी देख रहे हैं। डीजी लॉ एंड ऑर्डर ने मंगलवार से भी मोर्चा संभाल लिया था। उनके साथ गृह सचिव संजय प्रसाद भी मंदिर परिसर में व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने में लगे रहे।

भारी भीड़ को देखते हुए अयोध्या जाने वालीं यूपी रोडवेज की सभी बसों को रोक दिया गया। मंदिर की ओर जाने वाले सभी रास्तों को चार से पांच किलोमीटर पहले ही बंद कर दिया गया। सिर्फ पैदल यात्रियों को ही लाइन से पैदल जाने की अनुमति मिली।

यह भी पढ़े:श्रद्धालुओं से मुख्यमंत्री की अपील, संयम बरतें, सहयोग करें, सबको दर्शन देंगे रामलला

Download News Trendz App

newstrendz-mobile-news-app-download
RELATED ARTICLES
- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

Most Popular