Thursday, May 19, 2022
spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
Homeदेश/विदेशयूक्रेन में गोली का शिकार होने वाले भारतीय छात्र हरजोत सिंह को...

यूक्रेन में गोली का शिकार होने वाले भारतीय छात्र हरजोत सिंह को सेना के अस्पताल से मिली छुट्टी

नई दिल्ली: यूक्रेन की राजधानी कीव में गोली मारकर घायल हुए भारतीय छात्र हरजोत सिंह को मंगलवार को दिल्ली के सेना अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। सिंह को इस महीने की शुरुआत में यूक्रेन से वापस लाया गया था। उन्हें चार गोलियां लगी थीं, जिनमें एक सीने में लगी थी। दिल्ली में उतरने पर 31 वर्षीय छात्र को तुरंत आर्मी हॉस्पिटल (रिसर्च एंड रेफरल) ले जाया गया। आज सिंह ने कहा कि डॉक्टर ने उन्हें बताया कि उनके हाथ-पैर का इलाज करीब 1 साल तक चलेगा। उन्होंने एएनआई से बात करते हुए कहा, “मेरी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है, मेरे पिता सेवानिवृत्त हो चुके हैं। मैं चाहता हूं कि भारत सरकार मुझे आगे के इलाज में मदद करे।” अपनी पढ़ाई पर बोलते हुए हरजोत के पिता केसर सिंह ने कहा कि पहले उनका बेटा ठीक होने की कोशिश करेगा और उसके बाद सोचेगा कि क्या करना है। यूक्रेन-रूस युद्ध पर उन्होंने कहा कि कोई भी देश अच्छा या बुरा नहीं होता।

उन्होंने समाचार एजेंसी से कहा, “यह दो अहं के बीच की लड़ाई है न कि देशों के बीच की लड़ाई। अगर उन्हें (हरजोत) फिर से मौका मिलता है, तो वह पढ़ाई के लिए यूक्रेन जरूर जाएंगे।” हरजोत उन 25,000 से अधिक छात्रों में शामिल थे, जिन्हें रूस ने 24 फरवरी को यूक्रेन पर सैन्य हमले के बाद वापस लाया था। युद्ध शुरू होने के तीन दिन बाद, हरजोत अपने दो दोस्तों के साथ राजधानी शहर कीव से बचने के लिए लविवि के लिए एक टैक्सी में सवार हुए। हालांकि, उन्हें एक बैरिकेड पर रोक दिया गया और अचानक गोलियां आने लगीं। उन्हें चार गोलियां लगीं। उन्होंने कहा कि उन्हें लगा कि यह अंत है, लेकिन वह भगवान की कृपा से जीवित थे।

यह भी पढ़े: दून पहुंचा हेलमेट मैन, दुपहिया वाहन चालकों को हेलमेट अनिर्वार्य रुप से पहननें हेतु की गयी अपील

Download Android App

RELATED ARTICLES

Most Popular