Saturday, December 4, 2021
spot_img
spot_img
Homeउत्तर प्रदेशअयोध्या: 84 कोस में सजी रामनगरी, इस साल साढ़े सात लाख दीपों...

अयोध्या: 84 कोस में सजी रामनगरी, इस साल साढ़े सात लाख दीपों से बनेगा नया रिकॉर्ड

अयोध्या: उत्तर प्रदेश के अयोध्या जिले में बड़े पैमाने पर दीपोत्सव समारोह चल रहा है. इस साल, राज्य में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार 12 लाख मिट्टी के दीपक जलाएगी, जिनमें से नौ लाख सरयू के तट पर जलाए जाएंगे। उत्तर प्रदेश सरकार ने पवित्र शहर में सात स्तरीय प्रणाली के साथ व्यापक सुरक्षा व्यवस्था की है। उन्होंने कहा, “शहर के बाहरी से भीतरी घेरे तक सात स्तरीय सुरक्षा तंत्र मौजूद है। अयोध्या को मजबूत करने के लिए पुलिस, विशेष अभियान दल और विशेष सुरक्षा बल को तैनात किया गया है। हमने सुरक्षा की जांच और खुफिया जानकारी भेजने के लिए सिविल कपड़ों में कई पुलिसकर्मियों को भी तैनात किया है।” इनपुट। जीवन रक्षक उपकरणों के साथ चालीस नावें सरयू नदी घाटों पर तैनात की गई हैं,” आईएएनएस ने अयोध्या के एसएसपी शैलेश पांडे के हवाले से कहा।

सरयू नदी के तट पर 5,84,572 मिट्टी के दीये जलाए जाने के बाद पिछले साल के समारोहों ने ‘तेल के दीयों के सबसे बड़े प्रदर्शन’ के लिए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था। सरयू किनारे रामकथा पार्क में बुधवार दोपहर पुष्पक विमान स्वरूप हेलीकॉप्टर से प्रभु राम, सीता व लक्ष्मण उतरेंगे। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत मंत्रीगण और संत-धर्माचार्य दीप सजाकर प्रभु की अगवानी करेंगे। रावण का संहार कर सीता, लक्ष्मण और वानर सेना के साथ अयोध्या लौट रहे प्रभु राम के स्वागत की संपूर्ण भावभूमि आकार ले चुकी है। सरयू किनारे रामकथा पार्क में बुधवार दोपहर पुष्पक विमान स्वरूप हेलीकॉप्टर से प्रभु राम, सीता व लक्ष्मण उतरेंगे। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत मंत्रीगण और संत-धर्माचार्य दीप सजाकर प्रभु की अगवानी करेंगे।

इसके बाद वे गुरू वशिष्ठ की भूमिका में भगवान श्रीराम का राजतिलक करेंगे। सीएम रामलला के दरबार भी जाएंगे इसके बाद सीएम, राज्यपाल सहित कई मंत्री मां सरयू की भव्य आरती भी उतारेंगे। यहां लेजर शो, दीपों की माला के साथ रंग-बिरंगी अयोध्या स्वर्ग की भांति दिखेगी। राम की पैड़ी के 32 घाटों पर कीर्तिमान बनाने को नौ लाख दीप जलाकर साढ़े सात लाख दीप एक साथ 40 मिनट में जलाने और पांच मिनट तक जलते रहने का नया विश्व कीर्तिमान बनाने का लक्ष्य अवध के 12 हजार युवा साधेंगे। 2017 से शुरू हुए दीपोत्सव ने हर साल नए कीर्तिमान गढ़े हैं। गिनीज बुक की टीम हर साल बन रहे रिकॉर्ड की साक्षी रही है। इस बार एक नए रिकॉर्ड की साक्षी बनने के लिए गिनीज बुक की टीम अयोध्या पहुंच चुकी है।

News Trendz आप सभी से अपील करता है कि कोरोना का टीका (Corona Vaccine) ज़रूर लगवाये, साथ ही कोविड नियमों का पालन अवश्य करे। 

यह भी पढ़े: कम टीकाकरण वाले जिलों के डीएम के साथ PM मोदी की बैठक शुरू

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img
- video Advertisment -

Most Popular