Wednesday, January 26, 2022
Homeउत्तर प्रदेशElection Commission Of India: चुनाव आयोग ने की पांच राज्यों उत्तराखंड, पंजाब...

Election Commission Of India: चुनाव आयोग ने की पांच राज्यों उत्तराखंड, पंजाब ,यूपी , गोवा ,मणिपुर के विधानसभा चुनाव 2022 की घोषणा

दिल्ली: भारत निर्वाचन आयोग (Election Commission Of India) ने पांच राज्‍यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों (Assembly Election Dates 2022) का ऐलान कर दिया है। मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा (Chief Election Commissioner Sushil Chandra) ने उत्‍तर प्रदेश, उत्‍तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर विधानसभा चुनाव कार्यक्रम की घोषणा की।

उत्तरप्रदेश में -7 फेज में :- 10 फरवरी, 14 फरवरी, 20 फरवरी, 23फरवरी, 27फरवरी, 3 मार्च ,7 मार्च

उत्तराखंड में :-14 फरवरी

गोवा :-14 फरवरी

पंजाब :-14 फरवरी

मणिपुर :-27 फरवरी ,3 मार्च

10 मार्च को काउंटिंग

पांच राज्यों में 690 सीटों पर होगा चुनाव

गोवा 40 सीट
उत्तर प्रदेश 403 सीटे
पंजाब 117 सीट
उत्तराखण्ड 70 सीट
मणिपुर 60 सीट

5 राज्यो में होंगे चुनाव
1620 पोलिंग बूथों पर महिला कर्मचारी रहेगी
हर बूथ पर 1250 मतदाता वोट डाल सकेंगे
उम्मीदवारों को आपराधिक जानकारी देनी जरूरी
900 ऑब्जर्वर चुनाव पर रखेंगे
पैसे के दुरुपयोग पर जीरो टोरलेन्स

हर वोटर को उम्मीदवार का बैकग्राउंड जानने का अधिकार। तीन बार दर्ज केसेज की जानकारी अखबारों में देंगे उम्मीदवार। ECI सभी एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है। आगामी चुनावों में उम्मीदवारों के लिए ऑनलाइन नामांकन सुविधा उपलब्ध है हालांकि यह स्वैच्छिक होगी। करोना पीड़ित मरीजों को मोहिया कराए जाएंगे बैलेट पेपर पोलिंग स्टेशन पर मतदाताओं की संख्या में कमी के कारण हमें मतदान केंद्रों को बढ़ाकर 30,330 करना होगा।

  • इससे कुल मतदान केंद्रों की संख्या 2,15,368 हो गई है: मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा
  • चुनाव तैयारी के लिए पहले हमने स्वास्थ्य सचिव, केंद्र सरकार और हेल्थ एक्सपर्ट के साथ बातचीत की है- मुख्य चुनाव आयुक्त
  • चुनाव में धनबल का इस्तेमाल रोका जाएगा। गैरकानूनी पैसे-शराब पर कड़ी नजर रखी जाएगी। सभी एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है : मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा
  • महिलाओं के लिए 1620 पिंक पोलिंग बूथ बनाए जाएंगे
  • 80 वर्ष से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिक, दिव्यांग व्यक्ति और कोविड-19 पॉजिटिव व्यक्ति पोस्टल बैलेट से मतदान कर सकते हैं: मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा
  • मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा का बयान – चुनाव की अधिसूचना तत्काल प्रभाव से लागू , चुनाव आयोग ने सभी एजेंसियों को अलर्ट किया।
  • सभी कर्मचारी पूरी तरह वेक्सीनेटड
  • सभी मतदान कर्मी कोरोना वारियर माने जाएंगे
  • सबको डबल वैक्सीनेशन और बूस्टर डोज।
  • सभी कार्यक्रमों की वीडियोग्राफी की जाएगी – चुनाव आयोग

हर राज्य की विधानसभा सीट का कार्यकाल पांच साल ही रह सकता है। समय पर चुनाव कराना लोकतांत्रिक शासन सुनिश्चित कराने के लिए जरूरी है। चुनाव ड्यूटी में लगे सभी अधिकारी ऐसे होंगे, जो टीके की दोनों खुराक ले चुके हैं। उन्हें एहतियाती अतिरिक्त खुराक भी दी जा सकेगी।हर राज्य की विधानसभा सीट का कार्यकाल पांच साल ही रह सकता है। समय पर चुनाव कराना लोकतांत्रिक शासन सुनिश्चित कराने के लिए जरूरी है। चुनाव ड्यूटी में लगे सभी अधिकारी ऐसे होंगे, जो टीके की दोनों खुराक ले चुके हैं। उन्हें एहतियाती अतिरिक्त खुराक भी दी जा सकेगी।

कोरोना के हालातों को देखते हुए आयोग ने साफ तौर पर कहा कि इस बार हम तमाम ऐसे प्रयोग करेंगे जिससे सही तरीके से चुनाव हो सके उन्होंने माना चुनाव वो भी कोरोना में सुरक्षित कराना चुनौतीपूर्ण है लेकिन कोरोनावायरस क्षेत्र चुनाव कराना हमारी जिम्मेदारी है 18.35 करोड़ वोटर इस बार वोट देंगे , 8.55 करोड़ से ज्यादा महिलाए वोट देंगी
पोलिंग स्टेशन में सबकुछ कोरोना से बचाव की व्यवस्था होनी चाहिए 699 पोलिंग स्टेशन होंगे

मुख्य चुनाव आयुक्त ने सुशील चंद्रा ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि यूपी विधानसभा का कार्यकाल कुछ ही महीने में पूरा हो रहा है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए चुनाव की प्रक्रिया पूरी करवाना एक चुनौती है। ऐसे में हमने सुरक्षा नियमों का पालन करते हुए चुनाव कराने का निर्णय लिया है। हमारी कोशिश है कि मतदाता अपनी सुविधा और पूरी सुरक्षा के साथ मतदान कर सकें।

मुख्य चुनाव आयुक्त(Election Commission Of India) ने कहा कि इस बार आपराधिक रिकॉर्ड वाले उम्मीदवारों का रिकॉर्ड समाचार पत्रों व टीवी चैनलों पर प्रकाशित करना होगा साथ ही राजनीतिक दलों को भी उन्हें टिकट देने का कारण बताना होगा। चुनाव में एक उम्मीदवार प्रचार पर 40 लाख रुपये से अधिक नहीं खर्च कर सकेगा। हर विधानसभा में 1 महिलाओं के लिए पोलिंग स्टेशन होगा जो केवल महिलाओं के लिए होगा ऐसा ही विकलांग वोटरों के लिए भी होगा

आपराधिक छवि और मुकदमे वाले प्रत्याशियों के नाम जनता को बताने होंगे साथ ही मीडिया में छपवाने होंगे पार्टियों को अपने होम पेज पर भी देनी होगी जानकारी ख़र्चे को बढ़ाया गया है तमाम प्रत्याशी अब 40 लाख तक खर्च कर सकेंगे तमाम एजेंसियां पैसों और शराब के बेजा इस्तेमाल पर रोक लगाएगी सभी एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है।

वहीं प्रत्याशी ऑनलाइन नामांकन भी बढ़ सकेंगे सुविधा ऐप के जरिए हो सकेगा ऑनलाइन नामांकन।

आयोग ने सीधे-सीधे कहा कि संविधान कहता है कि किसी भी तरीके से चुनाव को नहीं टाला जा सकता जो भी चुनाव होने हैं या फिर सरकार होनी है वह केवल 5 साल के लिए होनी है उस को आगे नहीं बढ़ाया जा सकता।

चुनाव आयोग ने कहा कि सभी पोलिंग स्टेशनों को पूरी तरीके से सैनिटाइज किया जाएगा साथ ही तमाम मतदाता भी हाथों में ग्लब्ज पहन कर और मास्क पहन कर ही वोट देने उत्तराखंड में 99.9 प्रतिशत जनता की पहली डोज और 83 प्रतिशत लोगो को दूसरी डोज लग चुकी है। आयोग ने सभी प्रत्याशियों से अपील की है कि आपने कैम्पेन डिजिटली चलाये 15 जनवरी तक कोई रैली , जनसभा नही होगी।

 

यह भी पढ़ें: Omicron Alert: देश में तेजी से पैर पसार रहे कोरोना के नए मामले, बिगड़ते हालातों के बीच स्वास्थ व्यवस्थाओं को मजबूत करने की कवायद तेज़

Download Android App

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Most Popular